FANDOM


1992 mein antarashtriya mahila divas ke baad ab yeh zila kabhi bhi pehle jaisa nehin ho sakta. hendal par jhndiyaan

याँ

1992 में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के बाद अब यह ज़िला कभी भी पहले जैसा नहीं हो सकता. हैंडल पर झण्डियां लगाए, घंटियाँ बजाते हुए साइकिल पर सवार 1500 महिलाओं ने पुडुकोट्टई में तूफान ला दिया. महिलाओं की साइकिल चलाने की इस बात तइयारी ने यहां रहनेवालों को हक्का-बक्का कर दिया.

कुदुमी अन्नामलै की चिलचिलाती धूप में एक अदभुत दृश्य की तरह पत्थर के कधनों में दौड़ती-भगति बाईस वर्षीय मनोरमनी की लोगों ने साइकिल सिखलाते देखा.

Community content is available under CC-BY-SA unless otherwise noted.